क्रम :: जून 2021

इस अंक में

(इस माह के आकर्षण निम्न हैं. पाठक शीर्षक पर क्लिक करके पत्रिका पढ़ सकते हैं.)

संपादकीय

श्रद्धांजलि (कृपया नीचे स्क्रॉल करके देखें।)

कहानियाँ

दर-ब-दर : ज़हीर कुरेशी

कीचड़ : सत्येंद्र प्रसाद श्रीवास्तव

बहस

हिंदी लोकवृत्त की समस्याएं, प्रस्तुति :  रमाशंकर सिंह/ विचार : अजय कुमार, अमितेश कुमार

कविताएं 

नरेंद्र पुंडरिक

अंबिका दत्त

मनोज कुमार झा

मनीषा झा

संजय राय

जावेद आलम खान

यात्रा संस्मरण

बेतवा और केन किनारे : सुधीर विद्यार्थी

विस्मृति से एतराज

गौहर जान का जमाना : मनीष कुमार मिश्रा/ उषा आलोक दुबे

विश्वदृष्टि

जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली की कविता, अंग्रेजी से अनुवाद : अवधेश प्रसाद सिंह

विविध 

पाठक की टिप्पणी

महामारी 1918 : चित्रकथा

बतरस

-मारवाड़ी राजबाड़ी : कुसुम खेमानी

लघुकथा

बदशगुनी : इश्तियाक़ सईद

विशेष मल्टीमीडिया प्रस्तुति :

पिता को समर्पित चार कविताएं : (अज्ञेय, सर्वेश्वर दयाल सक्सेना, कुंवर नारायण और जावेद अख्तर) आवृत्ति- प्रियंका गुप्ता एवं सूर्यदेव रॉय

………………………………………………………….

संपादकीय टीम :

संरक्षक : इंद्रनाथ चौधुरी और स्वपन चक्रवर्ती
संपादक :शंभुनाथ
प्रबंध संपादक :प्रदीप चोपड़ा
प्रकाशक : डॉ. कुसुम खेमानी
संपादन सहयोग :सुशील कान्ति (vagarth.hindi@gmail.com, 7449503734)
मल्टीमीडिया संपादक : उपमा ऋचा (upma.vagarth@gmail.com)
आवरण : तारक नाथ राय

सदस्यता संबंधी विवरण और बिक्री संपर्क :

साधारण डाक खर्च सहित वार्षिक सदस्यता: 300 रुपए/तीन साल : 850 रुपए
आजीवन: 3000 रुपए /विदेश: वार्षिक: 40 डॉलर
(रजिस्टर्ड बुक पोस्ट से मंगाने पर वार्षिक रु.240 अतिरिक्त भेजें)
भारतीय भाषा परिषद के नाम से चेक या ड्राफ्ट भेजें
एजेंसियों और सदस्यों द्वारा चेक से भुगतान bharatiya bhasha parishad के नाम या नेफ्ट द्वारा: कोटक महिंद्रा बैंक, शाखा: लाउडन स्ट्रीट,
Ac/no.  8111974982, IFSC-KKBK0006590 पर उपर्युक्त नाम से किए जा सकते हैं।
भुगतान के बाद एसएमएस कर दें- मो.9163372683: मीनाक्षी दत्ता (सदस्यता और बिक्री)
11 बजे दिन से 6 बजे संध्या तक
समय पर भुगतान करने वाली एजेंसियों को ही हम भवष्यि में पत्रिका भेज पाएंगे।
प्रकाशित रचनाओं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।
सर्वाधिकार सुरक्षित, वागर्थ से संबंधित सभी विवाद कोलकाता न्यायालय के अधीन होगा।
प्रबंध : अमृता चतुर्वेदी
वितरण व अन्य कार्य : एस.पी. श्रीवास्तव, सूर्यदेव सिंह, अशोक बारीक, बैद्यनाथ कमती, खेत्राबासी बारीक, संतोष सिंह, प्रदीप नायक, प्रेम नायक।
वागर्थ रजिस्ट्रेशन नं. 61730/95
कुसुम खेमानी द्वारा भारतीय भाषा परिषद, 36ए, शेक्सपियर सरणी, कोलकाता-17 के लिए  ऑनलाइन प्रकाशित और मुद्रित।