कविताएं : गोविंद माथुर

कविताएं : गोविंद माथुर

वरिष्ठ कवि।अद्यतन कविता संग्रह ‘मुड़ कर देखता है जीवन’। विश्वास दिखाई नहीं देतामहसूस होता हैकिया जाता है विश्वासमुझ पर कम ही ने कियामैंने मित्रों पर ही नहींपरिचितों पर भी किया विश्वास किसी के चेहरे परलिखा नहीं होता फिर भीचेहरा पढ़ कर किया जाता है विश्वासअधिकांश चेहरों...