कविताएं : जसवीर त्यागी

कविताएं : जसवीर त्यागी

      ‘युवा कवि।अभी भी दुनिया में’ काव्य-संग्रह।संप्रति : एसोसिएट प्रोफेसर, हिंदी विभाग, राजधानी कॉलेज, नई दिल्ली। दरार से झांकती धूप बंद कमरे मेंदीवार की दरार सेझांकती थी धूपदर्शकदीवार में पड़ी हुईदरार देखते थेमैं दरार सेआती हुईधूप देखता था। जन्म एक दिन...