धर्मानंद कोसंबी – एक जीवन यात्रा भाग 2 : राधावल्लभ त्रिपाठी

धर्मानंद कोसंबी – एक जीवन यात्रा भाग 2 : राधावल्लभ त्रिपाठी

(जन्म : 1949) प्रख्यात संस्कृत विद्वान, कवि और साहित्यशास्त्र के आचार्य। 150 से अधिक ग्रंथ प्रकाशित। ठहराव बर्मा से जनवरी 1906 में लौट कर कलकत्ता टिके। यहां अंग्रेजी के प्रोफेसर हरिनाथ दे को पालि पढ़ाते रहे तथा अरविंद घोष के बड़े भाई प्रोफेसर मनमोहन घोष के संपर्क में भी...
धर्मानंद कोसंबी – एक जीवन यात्रा भाग 2 : राधावल्लभ त्रिपाठी

धर्मानंद कोसंबी – एक जीवन यात्रा : राधावल्लभ त्रिपाठी

(जन्म : 1949) प्रख्यात संस्कृत विद्वान, कवि और साहित्यशास्त्र के आचार्य। 150 से अधिक ग्रंथ प्रकाशित। राहुल सांकृत्यायन (1893-1963) और धर्मानंद कोसंबी (1876-1947) दोनों समकालीन हैं। धर्मानंद कोसंबी राहुल जी से सत्रह वर्ष बड़े थे, उनसे सोलह वर्ष पहले उन्होंने अपना शरीर...