योद्धा : रविशंकर सिंह

योद्धा : रविशंकर सिंह

वरिष्ठ कथाकार। कहानी संग्रह ‘तुमको नहीं भूल पाएंगे’। तालाब के निथरे जल में रात्रि के अंतिम पहर का नीम अंधेरा धीरे-धीरे घुल रहा था। भोर का उजास साइबेरियन पक्षी की तरह पंख फैलाकर पेड़ों की फुनगियों पर उतर रहा था। नीड़ों में पखेरू कलरव  करने लगे थे। कोयल की...