अंतिम दर्शन : शंभू शरण सत्यार्थी

अंतिम दर्शन : शंभू शरण सत्यार्थी

अमेरिका में रह रहे दोनों बेटे को पिता ने फोन किया- बेटा, माँ की तबीयत बहुत ही खराब है। जितना जल्दी हो सके आ जाओ। तुम दोनों भाइयों को मां बहुत याद कर रही है। छोटे बेटा ने कहा-  मैं तो अभी किसी कीमत पर नहीं आ सकता। बेटी का स्कूल में नामांकन कराना है। स्कूल से कब कॉल आ...