परिचर्चा : फणीश्वरनाथ रेणु का महत्व

परिचर्चा : फणीश्वरनाथ रेणु का महत्व

प्रस्तुति : संजय जायसवाल कवि और समीक्षक। विद्यासागर विश्वविद्यालय, मेदिनीपुर में सहायक प्रोफेसर।   फणीश्वरनाथ रेणु आंचलिक उपन्यास और नई कहानी दौर के विशिष्ट कथाकार हैं। वे हिंदी के पहले कहानीकार हैं, जो ग्रामीण क्षेत्रों में विज्ञान और टेक्नोलॉजी के प्रवेश का...
नए परिप्रेक्ष्य पर विश्व हिंदी संवाद : प्रस्तुति संजय जायसवाल

नए परिप्रेक्ष्य पर विश्व हिंदी संवाद : प्रस्तुति संजय जायसवाल

हिंदी के साहित्येतिहास को अधिक समावेशी बनाना जरूरी   हिंदी साहित्य के इतिहास को फिर से लिखने का सवाल बार-बार उठता रहा है। 5 दिसंबर 2020 को भारतीय भाषा परिषद की एक ऑनलाइन अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी में साहित्येतिहास के नए परिप्रेक्ष्य पर विचार करते हुए कहा गया कि...