हिंदी कहानी में नए मोड़ : रमेश अनुपम

हिंदी कहानी में नए मोड़ : रमेश अनुपम

कवि, आलोचक। अद्यतन कविता संग्रह ‘लौटता हूं मैं तुम्हारे पास’  आज की कहानी कई अर्थों में अपनी पूर्ववर्ती कहानियों से भिन्न है। यह न केवल नई विषयवस्तुओं का संधान करती है, बल्कि कथा के अनेक ऐसे दुर्गम क्षेत्रों में प्रवेश करने का जोखिम भी उठाती है, जो आज से...
उमा शंकर चौधरी की कविताएं

उमा शंकर चौधरी की कविताएं

       युवा कवि और कथाकार। हाल की कृतियाँ : ‘चूंकि सवाल कभी खत्म नहीं होते’ (कविता संग्रह), ‘दिल्ली में नींद’। सबसे पहले उसका साथ सबसे पहले उम्मीदों ने ही छोड़ा होगाउसका साथफिर उसके हाथ, पांव, नाक, मुंहपसलियों, फेफड़ों, अंतड़ियों नेऔर फिर दिमाग नेऔर सबसे...