मेरे देश की आंखें – अज्ञेय, कविता पाठ : शुभ्रास्था

मेरे देश की आंखें – अज्ञेय, कविता पाठ : शुभ्रास्था

रचना आवृत्ति : शुभ्रास्था ध्वनि संयोजन : अनुपमा ऋतुदृश्य संयोजन-संपादन : उपमा ऋचा प्रस्तुति : वागर्थ, भारतीय भाषा पारिषद कोलकाता अनुपमा ऋतु, उपमा ऋचा,...
मैं वहां हूं : अज्ञेय, कविता पाठ : डॉ विवेक सिंह

मैं वहां हूं : अज्ञेय, कविता पाठ : डॉ विवेक सिंह

रचना आवृत्ति :डॉ विवेक सिंह ध्वनि संयोजन : अनुपमा ऋतुदृश्य संयोजन-संपादन : उपमा ऋचा प्रस्तुति : वागर्थ, भारतीय भाषा पारिषद कोलकाता अनुपमा ऋतु, उपमा ऋचा, डॉ. विवेक...
केदारनाथ सिंह की कविता की दृश्य-श्रव्य प्रस्तुति

केदारनाथ सिंह की कविता की दृश्य-श्रव्य प्रस्तुति

रचना आवृत्ति : ज्योति सक्सेनाध्वनि संयोजन : अनुपमा ऋतुदृश्य संयोजन-संपादन : उपमा ऋचा प्रस्तुति : वागर्थ, भारतीय भाषा पारिषद कोलकाता अनुपमा ऋतु, उपमा ऋचा, ज्योति...
प्रेमचंद की कहानी ‘हिंसा परमो धर्मः’

प्रेमचंद की कहानी ‘हिंसा परमो धर्मः’

आवृत्ति : अनुपम श्रीवास्तव ध्वनि संयोजन : अनुपमा ऋतुसंयोजन-संपादन : उपमा ऋचा प्रस्तुति : वागर्थ, भारतीय भाषा पारिषद कोलकाता अनुपम श्रीवास्तव, अनुपमा ऋतु, उपमा...
उनको प्रणाम! : नागार्जुन

उनको प्रणाम! : नागार्जुन

रचना आवृत्ति : प्रियंका गुप्ताध्वनि संयोजन : अनुपमा ऋतुदृश्य संयोजन-संपादन : उपमा ऋचा प्रस्तुति : वागर्थ, भारतीय भाषा पारिषद कोलकाता अनुपमा ऋतु, उपमा ऋचा, प्रियंका...