कविता : बादल और लहरें
कवि : रवींद्रनाथ टैगोर
अनुवाद : उपमा ऋचा

कविता : मैं उठूंगी
कवि : माया एंजलो
अनुवाद : देवेश पथसरिया

स्वर :तृषान्विता बनिक, प्रशिक्षु शिक्षिका सेंट जेवियर्स कॉलेज कोलकाता
ध्वन्यांकन ; अनुपमा ऋतु, लेखक-अनुवादक एवं संपादक अबे कलजुग! 
दृश्य संयोजन-संपादन : उपमा ऋचा, मल्टीमीडिया एडिटर वागर्थ।

प्रस्तुति : वागर्थ भारतीय भाषा परिषद् कोलकाता