आदिवासी होने का अर्थ : मीनाक्षी नटराजन, अनुवाद :अवधेश प्रसाद सिंह

आदिवासी होने का अर्थ : मीनाक्षी नटराजन, अनुवाद :अवधेश प्रसाद सिंह

सोशल एक्टिविस्ट, पूर्व लोकसभा सदस्य (म.प्र.) लेखक, भाषाविद एवं अनुवादक. जब नेहरू से पूछा गया कि आदिवासियों के प्रति भारत का रुख क्या होना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘विनम्रता’। 1931 में, जनगणना आयुक्त जे.एच. हट्टन ने यह सुझाव दिया कि आदिवासी समुदायों की मान्यताओं की रक्षा...
जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

लेखक, भाषाविद और अनुवादक। जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली पेशे से पत्रकार हैं, जो मानवाधिकार के क्षेत्र में विशेष रूप से सक्रिय हैं। उनके चार कविता-संग्रह, एक कहानी संग्रह और कई निबंध प्रकाशित हो चुके हैं। कई पुरस्कारों से सम्मानित। आज मेरे पति देर रात घर आने वाले...
जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

लेखक, भाषाविद और अनुवादक। जार्जियन कवयित्री इका केवनिशविली पेशे से पत्रकार हैं, जो मानवाधिकार के क्षेत्र में विशेष रूप से सक्रिय हैं। उनके चार कविता-संग्रह, एक कहानी संग्रह और कई निबंध प्रकाशित हो चुके हैं। कई पुरस्कारों से सम्मानित। आज मेरे पति देर रात घर आने वाले...
अमांडा गोरमन की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

अमांडा गोरमन की कविता : अनुवाद अवधेश प्रसाद सिंह

लेखक, भाषाविद और अनुवादक। अमेरिकी कवयित्री और सामाजिक कार्यकर्ता। मुख्यतः शोषण, नस्लवाद, स्त्री विमर्श, हाशिए के लोगों पर केंद्रित रचनाएं। ‘द वन फॉर हूम फूड इज नॉट इनफ’ प्रसिद्ध रचना। राष्ट्रीय युवा कवयित्री के रूप में चयन। 2021 में बाइडेन के राष्ट्रपति पद के शपथ...
दलित चेतना की नई मंजिलें : मधु सिंह

दलित चेतना की नई मंजिलें : मधु सिंह

प्रस्तुति : मधु सिंह विद्यासागर विश्वविद्यालय, मेदिनीपुर में एम.फिल. की शोध छात्रा। कोलकाता के खुदीराम बोस कॉलेज में शिक्षण। आधुनिक युग विमर्शों का युग है। इस काल में शिक्षा और विज्ञान की प्रगति ने लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत किया है। फलस्वरूप साहित्य में...